close button

वर्तमान में बिहार के राज्यपाल कौन है – Who is governor of bihar

आज हम आपको बताने जा रहे है वर्तमान में बिहार के राज्यपाल कौन है हम जानते है कि राज्यपाल केंद्र सरकार प्रतिनिधी होता है और देश के राष्ट्रपति की तरह राज्य के देख रेख और सुझाव राज्यपाल द्वारा ही किया जाता है इसलिए देश के प्रत्येक राज्य का राज्यपाल होना बहुत जरूरी है जैसा कि देश के प्रथम व्यक्ति राष्ट्रपति होते है ठीक वैसे ही राज्य के प्रथम व्यक्ति राज्यपाल होते है।

राज्यपाल राज्य का संवैधानिक प्रमुख होता है वह मंत्रिपरिषद की सलाह से कार्य करता है अनुच्छेद 157 के तहत प्रत्येक राज्य में राज्यपाल होना अनिवार्य है राज्य के सभी सरकारी शक्तियां राज्यपाल के पास होती है राज्य में होने वाले विभिन्न कार्य का सहमति राज्यपाल देता है।

राज्यपाल केंद्र सरकार के अधीन होता है तथा राज्यपाल राज्य में होने वाले किसी किसी कार्य में अपना सहमति देता है लेकिन वास्तविक शक्तियों मुख्यमंत्री के पास होती है राज्य में जितने में कार्य किये जाते है वो राज्यपाल के आदेश से ही होते है लेकिन क्या आपको मालूम है कि बिहार के राज्यपाल कौन है।

अगर आप एक विद्यार्थी है और आप सरकारी नौकरी/कंपोटिसन का तैयारी करते रहते है तो यह प्रश्न आपको पता होना चाहिए क्योंकि अक्सर ऐसा प्रश्न कंपोटिसन की परीक्षा में पूछे जाते है आइये Who is governer of bihar के बारे में पूरी बिस्तार से जानते है।

बिहार के राज्यपाल कौन है 

Bihar ke rajyapal koun hai

वर्तमान में बिहार के राज्यपाल फागु चौहान है भारत के राष्ट्रपति द्वारा चुने बिहार के राज्यपाल 28 जुलाई 2019 से सपथ ग्रहण किया तब से वर्तमान में अब यही बिहार के राज्यपाल है इनसे पहले बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन जो 23 अगस्त 2014 से 28 जुलाई 2019 तक थे फागु चौहान एक भारतीय एक अच्छे जिम्मेदार राजनेता है वो भी केंद्र सरकार के अधीन बिहार के राज्यपाल के रूप में नियुक्त है।

आपकी जानकरी के लिए बता दे कि ये बिहार के 29वे राज्यपाल है फागु चौहान का जन्म आजमगढ़ के शेखपुरा में 1 जनवरी 1948 को हुआ वो पिछड़ी जाति चौहान जाती से तालुक रखते है उनका पिता का नाम खरपतू चौहान है उनकी पत्नी का नाम मोहरी देवी है तथा उसके 3 लड़के और 4 लड़कियां है फागु चौहान 1985 में सबसे पहली बार दलित किसान मजदूर पार्टी धोसी से विधानसभा का चुनाव लड़े और जीत गए।

उसके बाद वो विधायक बन गए यही से शुरू हुए उनकी राजनीतिक यात्रा फागु चौहान अब तक 6 बार विधायक रह चुके है ये सबसे पहली बार जनता दल के टिकट पर 1991 में विधायक चुने गए थे 1996 में भाजपा के टिकट पर विधानसभा पहुँचे फिर साल 2002 में उन्होंने भाजपा के टिकट से विधानसभा के चुनाव में जीत हासिल किया।

फिर उन्होंने 2017 में भाजपा के टिकट से विधानसभा का चुनाव लड़ा ओर फिर जीत हासिल ही अब लालजी टंडन के बाद बिहार के नए राज्यपाल के जिम्वारी सौपी गयी है।

Vijay Kumar Choudhary Governor of Bihar Prasanal Details

नामफागु चौहान
पिता का नामखरपतू चौहान
पत्नी का नाममुहारी देवी
बच्चे3 लड़के 4 लड़कियां
पेशा
राजनीतिज्ञ, कृषि कार्यकर्ता
जन्म तिथि1 जनवरी 1948
शिक्षा10वीं कक्षा तक

बिहार के प्रथम राज्यपाल कौन थे

बिहार के प्रथम राज्यपाल जयरामदास दौलतराम थे देश के आजादी के बाद ये संविधान परिषद के सदस्य रहे और कुछ समय बाद बिहार के राज्यपाल, केन्द्र सरकार में खाद्य और कृषि मंत्री रहे है इसका कार्यालय 15 अगस्त 1947 से 11 जनवरी, 1948 तक था इसके बाद 6 वर्षों तक असम राज्य के राज्यपाल के रूप में काम किया।

इसके अलावा जयरामदास जी भारत के स्वतंत्रता सेनानी एवं राजनेता भी थे वह संविधान सभा के सदस्य चुने गए सदस्यों में से एक थे जयरामदास दौलतराम एक प्रसिद्ध काँग्रेसी नेता थे जो देश में विभिन्न महत्त्वपूर्ण पदों पर खरे उतरे थे इनका जन्म 21 जुलाई 1890 को कराची (जो अब पाकिस्तान में है) में एक एक सम्पन्न क्षत्रिय परिवार में हुआ था और मृत्यु – 1 मार्च 1979 को हुआ था।

भारत पर सिंध पर अंग्रेज़ों के अधिकार के पहले से ही उनके पूर्वज उच्च पदों पर रहते आए है जयरामदास दौलतराम एक मेधावी छात्र थे जो हाईस्कूल की परीक्षा में वे पूरे सिंध प्रांत में सबसे पहला स्थान पाए थे BA की परीक्षा में पूरी प्रेसिडेंसी में उन्होंने स्थान प्राप्त किया और मुंबई से जयरामदास ने क़ानून की डिग्री हासिल की और कराची से वकालत की पढ़ाई किया।

बिहार के सभी राज्यपालो की सूची

आप अब समझ गए होंगे कि वर्तमान में बिहार के राज्यपाल कौन है लेकिन इसका अलावा आपको बिहार के सभी राज्यपालों के बारे में जानना अनिवार्य है अगर आप कंपोटिसन की तैयारी करते है तो देश के आजादी से पहले ओर आजादी के बाद बिहार में कितने राज्यपाल हुए है उनकी सूची नीचे दिया है।

नाम कब सेकब तक
सर जेम्स
सिफ्टन
1 अप्रैल 19361 मार्च 1937
सर मौरिस
गार्नियर हैलेट
1 मार्च 19375 अगस्त 1939
सर थॉमस
अलेक्जेंडर स्टेवार्ट
5 अगस्त 19399 जनवरी 1963
सर थॉमस
जॉर्ज रदरफोर्ड
9 जनवरी 1943मार्च 1943
सर फ्रांसिस
मूडी
मार्च 19431944
सर थॉमस
जॉर्ज रदरफोर्ड
194413 मई 1946
सर हफ डो13 मई 194615 अगस्त 1947
जयरामदास
दौलतराम
15 अगस्त 194711 जनवरी 1948
माधव
श्रीहरि एनी
12 जनवरी 194814 जून 1952
आर आर
दिवाकर
14 जून 19525 जुलाई 1957
जाकिर हुसैन5 जुलाई 195711 मई 1962
अनन्त शयनम्
अयंगार
12 मई 19626 दिसंबर 1967
नित्यानंद
कानूनगो
7 दिसम्बर 1967 20 जनवरी 1971
देव कांत
बरुआ
1 फरवरी 19714 फरवरी 1971
रामचंद्र धोंडीबा
भंडारे
5 फरवरी 197414 जून 1976
जगन्नाथ
कौशल
16 जून 197631 जनवरी 1979
ए आर
किदवई
20 सितंबर 197915 मार्च 1985
पी वेंकटसुब्बैया15 मार्च 198525 फरवरी 1988
गोविंद नारायण
सिंह
26 फरवरी 199824 जनवरी 1989
आर डी प्रधान29 जनवरी 19892 फरवरी 1989
जगन्नाथ
पहाड़िया
3 मार्च 19892 फरवरी 1990
मोहम्मद सलीम16 फरवरी 199013 फरवरी 1991
मुहम्मद शफी
कुरैशी
14 फरवरी 199118 फरवरी 1991
ए आर किदवई14 अगस्त 199326 अप्रैल 1998
सुंदर सिंह
भंडारी
27 अप्रैल 199815 मार्च 1999
वी सी पांडे23 नवम्बर 199912 जून 2003
एम आर जोइस12 जून 200331 ऑक्टोबर 2004
बूटा सिंह5 नवंबर 200429 जनवरी 2006
गोपालकृष्ण
गांधी
31 जनवरी 200621 जून 2006
आर एस गवई22 जून 20069 जुलाई 2008
रघुनंदन लाल
भाटिया
10 जुलाई 200828 जून 2009
देवानंद कुँवर29 जून 200921 मार्च 2013
डी वाय पाटिल22 मार्च 201326 नवम्बर 2014
केसरी नाथ
त्रिपाठी
27 नवम्बर 201415 अगस्त 2015
राम नाथ
कोविन्द
16 अगस्त 201520 जून 2017
केसरी नाथ
त्रिपाठी
20 जून 201729 सितंबर 2017
सत्यपाल
मलिक
30 सितंबर 201723 अगस्त 2018
लालजी टंडन23 अगस्त 201828 जुलाई 2019
फागु चौहान29 जुलाई 2019वर्तमान में है -

राज्यपाल के अंतर्गत आने वाले प्रमुख कार्य

जैसा कि आपको मालूम है कि किसी भी राज्य के राज्यपाल प्रमुख कार्य राज्य के प्रति अच्छी सोच जो राज्य में होने वाले अच्छे कार्य को मुख्यमंत्री से चर्चा करें यह राज्य में ही रहे गलत कार्यो को राज्य के मुख्यमंत्री से चर्चा करें और उसका समाधान निकाले आइये इसके अलावा राज्य के राज्यपाल के अंतर्गत आने वाले प्रमुख कार्य क्या है इसके बारे मे नीचे बताया गया है।

  • अनुच्छेद 166 के तहत राज्य में राज्यपालिक के संबधित कार्य राज्यपाल के नाम से ही किये जाते है।
  • अनुच्छेद 164 के तहत राज्यपाल केवल मुख्यमंत्री की नियुक्ति नही करता बल्कि उसकी सलाह पर राज्य के मंत्री परिषद के अन्य मंत्रियो को नियुक्त करता है।
  • राज्यपाल राज्य के सभी आयोगो में अध्यक्ष और सदस्य का चुनाव करता है।
  • राज्य के राज्यपाल विधानसभा में बहुमत प्राप्त नेता को मुख्यमंत्री नियुक्त करता है अगर बहुमत किसी भी दल को न मिला हो तो मुख्यमंत्री गठबंधन दलों के नेता को नुयुक्त करता है।

FAQ – अक्सर पूछे जाने वाला सवाल

राज्य के राज्यपाल का सैलरी कितना होता है?

भारत के प्रत्येक राज्य के राज्यपालों को लगभग 3 लाख 50 हजार रुपये मासिक वेतन के रूप में दिया जाता है यह वेतन देश में प्रधानमंत्री से ज्यादा वेतन राज्‍य के गर्वनर का होता है इसके अलावा इन्‍हें अन्‍य सरकारी सुविधाओं के साथ-साथ तमाम भत्‍ते भी सामिल होते है।

2021 में बिहार के राज्यपाल का नाम क्या है?

2020 में बिहार के राज्यपाल का नाम फागु चौहान है इनसे पहले बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन थे।

बिहार के प्रथम राज्यपाल का नाम क्या था?

बिहार के प्रथम राज्यपाल का नाम जयरामदास दौलतराम था जिनका कार्यालय 15 अगस्त 1947 से 11 जनवरी तक था।

अब तो आप समझ गए होंगे कि वर्तमान में बिहार के राज्यपाल कौन है (Who is governor of bihar) इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आप आईपीएल के पूरा सीरीज देख पाएं।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे Whatsapp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

इसे भी पढ़े –

Leave a Comment