close button

TRP Full Form in Hindi | TRP क्या है जानिए इसका फुल फॉर्म क्या होता है

TRP Full Form in Hindi : अगर आप What is the full form of trp यानि अगर आप TRP क्या होता है और TRP का फुल फॉर्म क्या है इसके बारे में जानना चाहते है तो इस पोस्ट पर अंत तक बने रहे है क्योकि यहाँ TRP से जुडी जानकारी जानने को मिलेगी।

अक्सर टीवी चैनलों पर या लोगो के बीच TRP नाम आपको जरूर सुनने को मिला होगा हमारे घर के कई अलग-अलग प्रकार मत वाले आदमी होते है जैसे किसी का मन Movies देखने लगता है तो किसी को न्यूज़ देखने मे किसी को सीरियल देखने मे यानी सभी लोगो अलग-अलग विचार होता है

आपको बता दे कि टीवी चैनल कौन कितना मसहूर है उसका अनुमान TRP द्वारा लगाया जा सकता है अक्सर आपने अपने जीवन मे कई बार सुना होगा की किसी टीवी चैनल का TRP घट या बढ़ गयी है और उसकी TRP बढ़ गयी है।

आज के समय मे सभी टीवी चैनलों में अपना-अपना TRP बढ़ाने में लगे है आपने कभी सोचा है कि आखिर ये TRP क्या होता है, TRP Full Form क्या होता है (Full Form of TRP), कैसे मालूम करें कि किस चैनल की TRP ज्यादा है तथा इसका क्या फायदा है इत्यादि अगर आप इस सब के बारे में जानना चाहते है तो आर्टीकल को अंत तक पढ़े।

TRP क्या होता है- What is TRP in Hindi

TRP Full Form in Hindi

टीआरपी एक ऐसा टूल है जिससे माध्यम से किसी भी टीवी चैनलो का रैंकिंग देखा जाता है यानी टीआरपी द्वारा किसी न्यूज़, सीरियल, स्पोटर्स ,कॉमेडी इत्यादि चैनलों को कितना उसको पब्लिक पसंद करती है 1 दिन में कितना घंटे देखती है और सबसे ज्यादा TRP के माध्यम से देखा जा रहा है 

अगर आम भाषा मे बताये तो टीआरपी एक ऐसा तकनिक है जिससे किसी भी टीवी चैनलों का पॉपुलैरिटी को आसनी से पता लगाया जाता है इससे कोई आम इंसान भी पता लगा सकता है 

अगर किसी चैनल का टीआरपी अच्छा है तो उसमें कोई भी Advertisers ओर Investors आपके अच्छा टीआरपी के वजह से उस चैनल पर अपना प्रोडक्ट का विज्ञापन देते है जिससे चैनलों को बहुत प्रॉफिट होता है

TRP Full Form in Hindi

TRP का फुल फॉर्म “Television Rating Point” होता है यानी इसका हिंदी मतलब दूरदर्शन योग्यता केंद्र कह सकते है टीआरपी के मदद से ही किसी भी चैनल या प्रोग्राम की पॉपुलैरिटी को समझने में मदद मिलती है।

TRP FULL FORM – TEVEVISION RATING POINT होता है

यानी किसी चैनल या प्रोग्राम को लोग कितने बार ओर कितने समय के लिए देख रहे है टीआरपी के माध्यम से पता चलता है किसी भी चैनल का टीआरपी ज्यादा होना उसका मतलब उस चैनल का टीआरपी ज्यादा है।

TRP कैसे कैलकुलेट की जाती है

वैसे तो टीआरपी की गणना करने के लिए भारत में कई तरह के तरीके अजमाने जाते है लेकिन सबसे ज्यादा दो तरीके से टीआरपी मापा जाता है जिसमे पहला तरीका People Meter द्वारा और दुसरा Picture Matching द्वारा आइये इन दोनों तरीके के बारे में जानते है

1. People Meter

बहुत सारे घरों में टीआरपी मापने के लिए Setup box के साथ People’s Meter लगाए जाते है ये इसमे Specific Frequency द्वारा पता लगता है कि कौन सा प्रोग्राम या चैनल कितना बार या कितना घंटे देखा जा रहा है।

आपको बता दे कि People’s Meter में एक-एक सेकेंट का इन्फॉर्मेशन  को मोनोटिंग टीम (Indian television Audience Measurement) को भेज देता है इसके बाद मोनोटिंग टीम इस फोटेज को कैलकुलेट करती है उसके बाद सभी चैनलों का फोटेज कैलकुलेट करने के बाद निर्णय लिया जाता है कि किस चैनल या प्रोग्राम टीआरपी का अच्छा है 

उदाहरण : जब आप फेसबुक/व्हाट्सएप्प स्टेट्स लगाते है तो कुछ देर बाद चेक करते है कि उसे कितने लोगों ने देखा, जेन्स देख रहा है या लेडिस, देश जगह से देख रहा है इत्यादि ठीक इसी प्रकार People’s Meter भी काम करता है इसमे भी लोगो का एक्टिविटी को पता लगाया जाता है।

2. Picture Matching

इस तरीके को काफी कम लोग इस्तेमाल करते है इसमें अलग-अलग समय पर अलग-अलग जगह पर चल रहे टीवी सो की स्क्रीन रिकॉर्ड की जाती है और उसके बाद मालूम किया जाता है की किस टीवी पर कौन सा चैनल अधिक देखा जाता है एक एक खास शो को रिकॉर्ड किया जाता है उसके बाद जिस चैनल पर उस शो को अधिक देखा जाता है उसकी टीआरपी अधिक मानी जाती है

Mobile Se Online TRP Check Kaise Kare

अगर आप अपने मोबाइल फोन से चैनल का टीआरपी चेक करना चाहते है कि ओर अभी इंडिया में सबसे टॉप पर कौन सा टीवी चैनल चल रहा है तो हमारे बताये गए स्टेप को फॉलो करें।

सबसे पहले आपको गूगल बाबा पर जाना है यानी Google पर www.barcindia.co.in वेबसाइट को ओपन करना है थोड़ा सा स्क्रॉल करके नीचे आएंगे तो आपको इंडिया का टॉप 10 TRP वाला लिस्ट दिख जाएगा।

TRP से फायदे और नुकसान

  • टीआरपी के अनेको फायदे है टीवी चैनलों का कमाई ज्यादातर टीआरपी से ही होती है आपको बता दे कि चैनलो कि सबसे ज्यादा कमाई 80% से ज्यादा विज्ञापन द्वारा होती है ओर विज्ञापनों का कनेक्सन ज्यादा तर टीआरपी से ही होता है। 
  • किसी भी टीवी चैनेल हो चाहे वो न्यूज़, कॉमेडी, सीरियल, मूवी आदि उसकी कमाई ज्यादा या कम होने की वजह सिर्फ TRP ही होता है जैसा कि किसी अगर किसी चैनल का टीआरपी कम है तो आप समझ लीजिए कि वह चैनल ज्यादा नही चलता है।
  • यानी उस चैनल का प्रोग्राम ज्यादे लोगो को पसंद नही है ओर उस चैनल को कंपनियां विज्ञापन कम देती है जिससे चैनल का नुकसान होता है अगर हम किसी चैनल का टीआरपी से फायदे की बात करें तो अनेको फायदे है।
  • तो अगर किसी चैनल का TRP ज्यादे होती है उसकी कमाई ज्यादे होती है और विज्ञापन के लिए कपनियां ज्यादे से ज्यादे रकम देती है इससे चैनल का फायदा/मुनाफा होता है।

FAQ

Q : भारत में सबसे ज्यादा टीआरपी किस चैनल का है?

Ans : भारत में सबसे ज्यादा टीआरपी Sun TV चैनल का है

Q : बिहार में सबसे ज्यादा टीआरपी किस चैनल का है?

Ans : बिहार के लोग सबसे ज्यादा फिल्म देखना पसंद पसंद करते है इसलिए यहाँ सबसे ज्यादा टीआरपी Goldmines का है

Q : TRP का फुल फॉर्म क्या है?

Ans : टीआरपी का फुल फॉर्म Television Rating Point होता है

अब तो आप समझ गए होंगे कि TRP Full Form in Hindi इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आप आईपीएल के पूरा सीरीज देख पाएं।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे WhatsApp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

Related Posts :-

Leave a Comment