close button

ओडिशा की राजधानी क्या है – Odisha ki rajdhani kya hai

भारत के पूर्वी तट पर ओडिशा राज्य स्थित है इस प्रदेश के उत्तर में झारखंड, उत्तर पूर्व में पश्चिम बंगाल, दक्षिण में आंध्र प्रदेश, पश्चिम में छत्तीसगढ़, तथा पूर्व में बंगाल की खाड़ी से घिरा हुआ है सभी लोग ओडिशा की राजधानी क्या है – Odisha ki rajdhani kahan hai जानना चाहते है इसलिए आज हम ओडिशा के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

ओडिशा की स्थपाना 26 जनवरी 1950 को हुआ था ओडिशा को पहले के समय में उड़ीसा के नाम से जाना जाता था लेकिन वर्तमान समय में इसे ओडिशा के नाम से जाना जा रहा है आधुनिक समय में इस प्रदेश में पहले के अपेक्षा काफी तर्रकी दिखी गयी है आजादी के बाद इस राज्य के ग्रामीण इलाको में जबरदस्त विकास हुआ है यहाँ के इलाको में खुबसूरत मंदिरे होने के कारण इस प्रदेश को मंदिरों के धरती के नाम से भी जाना जाता है।

भारत में बहुत ही कम ही ऐसी जगह है जो अपने संस्कृति और विरासत के मामलो में अदुतीय है ओडिशा राज्य में भी उन्ही में से एक है जो अपने समृद्ध परंपरा और प्राकृतिक साम्प्रदा से संपन्न है ओडिशा को प्यार से भारत का आत्मा भी कहाँ जाता है इस प्रदेश का कुल क्षेत्रफल 155,707 किमी² है क्षेत्रफल के अनुसार यह देश का 9वां सबसे बड़ा राज्य है ओडिशा राज्य भारत के सबसे बड़े राज्य टॉप 10 की सूची में सामिल है।

साल 2011 के अनुसार प्रदेश की जनसँख्या लगभग 4,19,74,218 है जनसँख्या के दृष्टि से भारत का 11वां सबसे बड़ा राज्य और क्षेत्रफल के दृष्टि से 9वां सबसे बड़ा राज्य है ओडिशा में सर्वाधिक बोली जाने वाली राजकीय भाषा ओड़िआ है इसके अलावा यहाँ हिंदी और अंग्रेजी भाषा भी बोली जाती है उदिशा राज्य पर्यटकों के लिए काफी प्रसिद्ध है यहाँ हर साल लाखों लोग देश विदेश से घुमने के लिए आते है।

अगर आप जानना चाहते है की ओडिशा की राजधानी क्या है – (Capital of Odisha in hindi) और ओडिशा के प्रमुख पर्यटन स्थल कौन से है आदि जानकारी तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़े।

ओडिशा की राजधानी क्या है

Odisha ki rajdhani kya hai

ओडिशा की राजधानी भुनेश्वर है और उदिशा का सबसे बड़ा शहर भी भुनेश्वर ही है अगर  प्रशासनिक रूप से देखा जाये तो भुनेश्वर खोर्धा ज़िले में स्थित है यह पर्व भारत का महत्वपूर्ण आर्थिक और सांस्कृतिक का एक केंद्र है राजधानी भुनेश्वर महानदी से दक्षिणपक्षिम में स्थित है आपको बता दे की इस शहर के दक्षिण में दया नदी और पूर्व में कुआखाई नदी बहती है इस नगर को पूर्व का कशी कहा जाता है इसके अलावा इसे City of tample यानि मंदिरों का घर कहा जाता है।

ओड़िसा का विकाश दर पहले के अपेक्षा काफी बुरा है 1990 में ओड़िशा का विकास दर 4.3% था जबकि औसत विकास दर 6.7% है लेकिन पिछले कुछ वर्षो से स्वास्थ्य,शिल्प और प्राकृतिक विपदाओं से जूझने मे अनेकांश में प्रगति हुई है जो पूर्वी भारत में विकाश के लिए एक असल में तारीफ के काबिल है ओडिशा में कृषि क्षेत्र का विकाश दर 32 फीसदी है जो यहाँ काफी तेजी से ओडिशा में कृषि दर बढ़ रहा है।

आपको बता दे की यह प्रान्त पूर्वी भारत का तेजी से विकास करता हुआ राज्य है जो वर्तमान में बिहार और झारखण्ड से आगे है  ओडिशा राज्य का उत्तरी और पक्षिमी भाग छोटानागपुर पठार के अंतर्गत आता है जो तटवर्ती इलाका बंगाल के खाड़ी से सटा हुआ है प्रदेश में करीब 32% इलाका वनों से ढका हुआ है वनों में एक से बढ़कर एक जीव जंतु देखने को मिल जाते है। 

अगर हम इस प्रदेश की जनसँख्या की बात करें तो  2011 के जनगणना के अनुसार यहाँ की कुल आबादी करीब 41,974,218 है, जनसँख्या घनत्व 270 किमी2 है कुल क्षेत्रफल लगभग 155,707 किमी2 है जिसमे जनसँख्या के हिसाब से गंजम सबसे बड़ा जिला (जनसँख्या करीब 3529031) है।

सबसे कम जनसँख्या वाला जिला ओडिशा का सबसे छोटा जिला देबगढ़ जिला (जनसँख्या करीब 312520) है और क्षेत्रफल के हिसाब से सबसे बड़ा जिला मयूरभंज है जो 10418 वर्ग किलोमीटर और सबसे छोटा जिला बालासोर है है (306  किमी.) में फैला हुआ है।

ओडिशा से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

संस्कृति से पर्याप्त राज्य ओडिशा देश का 9वां और काफी खुबसूरत राज्य है ओडिशा में एक से बढ़कर एक पर्यटन स्थल है इसके अतिरिक्त ओडिशा धान के खेती और ऐतिहासिक स्मारकों के लिए भी जाना जाता है उदिशा में में करीब 33 फीसदी वन है ओडिशा के बारे में एक से बढ़कर एक रोचक जानकारी मौजूद है अगर आप एक छात्र है और आप अपना जेनरल नॉलेज बढ़ाना चाहते है तो ओडिशा के बारे में कुछ रोचक तथ्य के बारे में जानकारी होना चाहिए।

  • ओडिशा में तीन प्रसिद्ध मंदिर जो स्वर्ण और त्रिभुज कहलाते है उड़ीसा में पर्यटन का प्रमुख केंद्र भुनेश्वर में लिंगराज मंदिर, पूरी में जगरनाथ मंदिर और कोनार में सूर्य मंदिर है। 
  • ओडिशा में शहरी और गांव का मिश्रण राज्य है यहाँ अधिकतर उड़िया भाषा बोली जाती है इसके अलावा यहाँ पर उच्च शिक्षा होने के कारण हिंदी और अंग्रेजी भी बोली जाती है।
  • ओडिशा में ज्यादातर जन निवासी कृषि करते है जो गाँवो में रहते है।
  • यहाँ कई सारे जन समूह भी है जो राज्य के जनसँख्या का एक चौथाई है यह समुदाय अभी भी अपने संस्कार और समृदी का पुरे अच्छी तरह से पालन करते है। 
  • ओडिशा की शास्त्रीय नृत्य उडीसी अभी भी राज्य में जिन्दा है यहाँ शादी समरोह जैसे फँसन में यह नृत्य दिखाई पड़ती है यह नृत्य दुनिया भर में प्रसिद्ध है इसे सिखने के लिए लोग देश विदेश से आते है। 
  • गोपालपुर राज्य का प्रमुख बंदरगाहो में एक है यह प्रदेश का शानदार और सुनहरा तट है।
  • यह प्रदेश क्षेत्रफल के अनुसार भारत का नौवा और जनसँख्या के अनुसार ग्यारहवां सबसे बड़ा राज्य है 
  • ओडिशा के प्रमुख नदिया बैतरणी , महानदी और ब्रम्नी नदी है।
  • ओडिशा के पूरी में प्रसिद्ध मंदिर कोर्नार्क सूरी मंदिर के दर्शन के लिए आते है इस सूर्य मदिर का चर्चा केवल भारत में ही है बल्कि पुरे दुनियाभर में प्रसिद्ध है सूर्य के रथ के रूप में इस मंदिर का निर्माण लाल बलुई पत्थर और काली ग्रेनाईट से किया गया है।
  • पूरी का समुन्दी तट हिन्दुओ के चार धमो में से एक धाम है जगरनाथ पूरी इस तट को भगवान जगरनाथ का निवास स्थान माना जाता है यहाँ तीर्थ यात्री समुन्द्र में स्नान करने के लिए आते है।
  • गन्ने का फसल राज्य के दुसरो सबसे बड़ी फसल मानी जाती है गन्ना के उत्पादन में ओडिशा भारत के आठवें नंबर पर आता है। 
  • आपको जानकर हैरानी होगी की हिटलर ने दूसरी विश्वयुद्ध के दौरान ओडिशा को कब्ज़ा करना का सोचा था उनका यह कहना था की इस प्रदेश में इतना प्राकृतिक पदार्थ है उसे हासिल करने के बाद कोई भी जंग आसानी से जीता जा सकता है।
  • ओडिशा में करीब 62 समुदाय के लोग रहते है और हर समुदाय के लोगो का अपनी पहचान और संस्कृति अलग है।
  • ओडिशा में संभल और इक्कत साड़ियाँ का भंडार है यहाँ सबसे ज्यादा इस तरह के बेहतरीन साड़ियो पर हाथों की कारीगिरी (हैंडलूम) से बनाई जाती हैं और देश विदेश में एक्सपोर्ट किया जाता है।
  • 2011 के जनगणना के अनुसार यहाँ की आबादी 4 करोड़ 19 लाख 74 हजार 218 है जिसमे हिन्दुओ की जनसँख्या लगभग 39,300,341, मुसलमानों की 911,670, इसाई 1,161,708, सिख 21,991, बौद्ध 13,852, जैन 2,655, अघोषित 76,919 और अन्य लोगो की आबादी 478,317 है।
  • ओडिशा में कुल 30 जिले है क्षेत्रफल के हिसाब सबसे बड़ा जिला मयूरभंज है जो 10418 वर्ग किलोमीटर में है और आबादी के दृष्टि से सबसे बड़ा गंजम सबसे बड़ा जिला जनसँख्या करीब 3529031 है।

ओडिशा राज्य में प्रमुख पर्यटन स्थल

ओडिशा में घुमने के लिए कई सारे पर्यटन स्थल है जिसमे पुराने मंदिरे, किले और जंगल आदि सामिल है आइये ओडिशा में प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानते है।

पर्यटन स्थल का नाम स्थान का नाम
उदयगिरि और खंडगिरि
की गुफाएं
भुवनेश्वर, ओडिशा
भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यानचाम्पा जिला, ओडिशा
ट्राइबल म्यूजियमभुवनेश्वर, ओडिशा
भुवनेश्वर धौली गिरिभुवनेश्वर, ओडिशा
सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यानमयुरभंज जिला, ओडिशा
चिल्का झीलओडिशा
नंदन कान्हा का चिड़ियाघरभुवनेश्वर, ओडिशा
पुरी पुरी जिला, ओडिशा
कोणार्क सूर्य मंदिरपुरी जिला, ओडिशा
हीराकुंड बांधसंबलपुर, ओडिशा

FAQ – अक्सर पूछे जाने वाला सवाल

ओडिशा की राजधानी का क्या नाम है?

ओडिशा की राजधानी का नाम भुनेश्वर है और ओडिशा का सबसे बड़ा शहर भुनेश्वर ही है।

ओडिशा में कुल कितने जिले है?

ओडिशा में कुल 30 जिले है।

वर्तमान में ओडिशा की आबादी कितनी है?

साल 2011 के जनगणना के अनुसार ओडिशा की जनसँख्या करीब 4 करोड़ 19 लाख 74 हजार 218 है जिसमे पुरुषो की आबादी करीब आबादी 2 करोड़ 12 लाख 9 हजार 812 है।

ओडिशा की स्थापना कब हुआ था?

ओडिशा की स्थापना 26 जनवरी 1950 को हुआ था।

ओडिशा घुमने के लिए सबसे अच्छा समय कौन सा है?

ओडिशा घुमने के लिए सबसे अच्छा समय नवंबर से अप्रैल के बिच अच्छा समय मना जाता है क्योकि इस समय मौसम अनुकूल रखता है।

ओडिशा में कौन सी भाषा बोली जाती है?

ओडिशा में मुख्य रूप से राजकीय ओड़िया बोली जाती है इसके अलावा हिंदी और अंग्रेजी भी बोली जाती है।

वर्तमान में ओडिशा का मुख्यमंत्री कौन है?

वर्तमान में ओडिशा का मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (जन्म 16 ऑक्टोबर 1946) है।

ओडिशा का प्रसिद्ध स्थानीय भोजन कौन सा है?

ओडिशा में कई सारे व्यंजन देखे जाते है जिसमे प्रसिद्ध भोजन  दही-बड़ा आलू-दम है इसके अतिरिक्त उपानी-पुड़ी और स्वीट फूड बड़े प्रचलित है।

अब तो आप समझ गए होंगे कि ओडिशा की राजधानी क्या है – Odisha ki rajdhani kahan hai इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आपको ओडिशा के बारे अच्छी जानकारी मिल सकें।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे WhatsApp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

Related Articles:-

बिहार की राजधानीउत्तर प्रदेश की राजधानी
गुजरात की राजधानीराजस्थान की राजधानी
पंजाब की राजधानी झारखण्ड की राजधानी
असम की राजधानी महाराष्ट्र की राजधानी
आन्ध्र प्रदेश की राजधानी अरुणाचल प्रदेश राजधानी
छत्तीसगढ़ की राजधानी गोवा की राजधानी
हरियाणा की राजधानी हिमाचल की राजधानी
कर्नाटक की राजधानी केरल की राजधानी
मध्यप्रदेश की राजधानी मणिपुर की राजधानी
मेघालय की राजधानी मिजोरम की राजधानी
नागालैंड की राजधानी ओडिशा की राजधानी
सिक्किम की राजधानी तमिलनाडु की राजधानी

Leave a Comment