Mouse Ka Avishkar Kisne Kiya और कब किया पूरी जानकारी 2020 में

दोस्तों आज के इस आटिकल में हम जानने वाले है की Mouse Ka Avishkar Kisne Kiya और कब किया इस आर्टिकल में माउस से जुड़े पुरे जानकारी को अध्ययन करेंगे आज के समय में कंप्यूटर के बारे में कौन नहीं जनता है और बहुत से लोग इसका इस्तमाल भी करते होंगे तो ये भी जानते होंगे की कंप्यूटर बिना माउस को चलना संभव नहीं है।

Mouse Ka Avishkar Kisne Kiya

अगर आप माउस का इस्तमाल करते है तो अच्छी बात है लेकिन क्या आपको पता है की माउस का खोज किसने किया और कब किया था अगर नहीं जानते है तो ये पोस्ट आप ही के लिए है इस पोस्ट को लास्क तक पढ़े ताकि आपको माउस के बारे में अच्छी जानकारी मिल सके तो चलाये जानते है की माउस के बारे में कुछ रोचक बाते।

Mouse Ka Avishkar Kisne Kiya और कब किया

माउस का अविष्कार “डग्लस कार्ल ऐन्जल्वार्ट” ने 1960 में किया था उन्होंने 21 जून 1967 को उन्होंने इसके पेंटेट के लिए आवेदन किया और 17 नवम्बर 1970 को उनको माउस के लिए पेंटेट मिल गया था जब डग्लस ने माउस की खोज की थी उस समय डग्लस स्टेनफोर्ड रिसर्च संस्थान में कार्य कर रहे थे जब पहले माउस का अविष्कार हुआ।

तब यह लकड़ी का हुआ करता था और उसका आकर में चौकार था जिसे चलाने के लिए इसमें धातु के दो पहिये लगे होते थे माउस का नाम “माउस” इसलिए रखा गया क्यों की यह दिखने में किसी चूहे के जैसे लगता था जिस समय डग्लस में माउस का खोज किया था उस समय के कंप्यूटर बड़े-बड़े कमरों के बराबर होते थे इनमे पंच कार्ड द्वारा डाटा भरा जाता था।

Mouse Ke Bare Mein 10 Line – माउस के बारे में 10 बाते

  1. डग्लस के माउस बनाने के करीब 20 साल बाद 1981 में माउस का इस्तेमाल के लिए बाजार में आया था जिसमे बॉल और दो बटन होते थे  शुरू में इसको जेरोक्स स्टार 8010 पर्सनल कंप्यूटर के साथ बेचा गया उस समय इस कंप्यूटर की कीमत लगभग 16,000 डॉलर थी।
  2. जैसा की हमने ऊपर के हैडिंग में बताया की माउस का नाम इसके अकार के हिसाब से रखा गया था लेकिन जब शुरू में इसको बनाया गया तब इसको “बग” नाम से जाना जाता था।
  3. माउस का अविष्कार करने वाला डगलस के नाम माउस के अलावा 21 ओर आविष्कारों का पेटेंट है यानि इन्होने  पुरे जीवन में 22 अविष्कार किये।
  4. माउस की बॉल का अविष्कार बिल इंगिलश ने 1970 में किया था पहले के माउस होते थे उसके निचे दो पहिये लगे हुए थे जिनकी मदद से ये आगे पूछे चलता था। लेकिन बिल इंग्लिश ने 1970 में पहिये हो हटाकर वहां पर एक बॉल लगा दिया।
  5. माइक्रोसॉफ्ट ने पहली बार 1983 में माउस की बिक्री शुरू की जिसकी कीमत 195 डॉलर थी।
  6. 1991 में लांजीटेक ने दुनिया का पहला वायरलेस माउस पेश किया जिसमे रेडियो फ्रिकवेंसी ट्रांसमिशन का इस्तेमाल किया गया था।
  7. 2004 में लंगीटेक कंपनी ने पहला लेजर माउस बाजार में लाया था इस माउस की स्पीड आप्टीकल माउस से 20 गुणा ज्यादा थी।
  8. माउस की स्पीड को मिकी यूनिट में गिना जाता है एक मिकी एक इंच का 200 वां हिस्सा होता है।
  9. माउस जो इंग्लिश, स्पेनिश, इटालियन, जर्मन, फ्रेंच और रुसी सहित अनेक भाषाओ में माउस के नाम से ही जाना जाता है।
  10. चलिए अब डग्लस कार्ल एन्जलवर्ट का बारे में कुछ माउस जो इंग्लिश, स्पेनिश, इटालियन जान लेते है इनका जन्म 30 जनवरी 1925 में पोर्टलैंड के ओरेगानं नामक स्थान पर हुआ था डग्लस बचपन से ही एक बहुत ही तेज छात्र थे जो बाद में पुरे संसार में एक इंजिनियर और एक अविष्कारक के रूप में जाने जाते है इसके अलवा वह वर्तमान में कंप्यूटर के माउस के अविष्कारक के रूप में दुनिया भर में जाने जाते है इस महान अविष्कारक की मृत्यु 2 जुलाई 2013 में अमेरिका के कैलिफोनिर्या में हुई थी।

हमनें क्या पढ़ा –

इस आर्टिकल में हमने पढ़ा Mouse Ka Avishkar Kisne Kiya और कब किया इसके के बारे में बहुत से आसान शब्दों में बताया गया है ताकि आपको अच्छी तरह समझ में आ सके।

दोस्तो कैसा लगा ये पोस्ट Comment Box में जरूर बताएं ओर आपका कोई सवाल है तो Comment Box में पूछ सकते है।

अगर ये Post अच्छा लगे तो अपने दोस्तों के साथ Whatsapp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

इसे भी पढे –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here