close button

EVM Full Form in Hindi | EVM मशीन क्या है व कैसे काम करता है

क्या आप जानते है की EVM क्या होता है तथा EVM Full Form है अगर पता है और आप जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह पर आप आपको EVM Full Form के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

हम जानते है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है यहाँ की सरकार यहाँ की जनता द्वारा चुनी जाती है यहाँ अलग-अलग क्षेत्र से लोक सभा तथा विधान सभा के लिए प्रतिनिधि चुनते है उसे चुनाव कहा जाता है।

स्वतंत्रता के बाद इंडिया में सबसे पहला चुनाव 25 ऑक्टोबर 1951 से 27 मार्च 1952 के बीच हुआ था। उस चुनाव के दौरान पोस्ट बैलेट बॉक्स जिसमे एक विशेष पेज पर अपने उमीदवार पर निशान लगाना होता था धीरे-धीरे इस तकनीक में भ्रस्टाचार और खामियां आने लगे कही-कही बूथ टूटने ओर कही दंगे देखा गया।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए भारत के चुनाव आयोग ने ऐसी मशीन की रचना की जिससे कम भ्रस्टाचार हो सके और लोकतंत्र पर कोई खतरा न हो पाए आज वह उसी नई वोटिंग मशीन EVM के बारे में बताएँगे की EVM मशीन क्या है और इसका फुल फॉर्म क्या होता है इससे जुडी जानकारी आज हम आपसे शेयर करेंगे।

 Form है अगर पता है और आप जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह पर आप आपको EVM Full Form के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

हम जानते है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है यहाँ की सरकार यहाँ की जनता द्वारा चुनी जाती है यहाँ अलग-अलग क्षेत्र से लोक सभा तथा विधान सभा के लिए प्रतिनिधि चुनते है उसे चुनाव कहा जाता है।

स्वतंत्रता के बाद इंडिया में सबसे पहला चुनाव 25 ऑक्टोबर 1951 से 27 मार्च 1952 के बीच हुआ था। उस चुनाव के दौरान पोस्ट बैलेट बॉक्स जिसमे एक विशेष पेज पर अपने उमीदवार पर निशान लगाना होता था धीरे-धीरे इस तकनीक में भ्रस्टाचार और खामियां आने लगे कही-कही बूथ टूटने ओर कही दंगे देखा गया।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए भारत के चुनाव आयोग ने ऐसी मशीन की रचना की जिससे कम भ्रस्टाचार हो सके और लोकतंत्र पर कोई खतरा न हो पाए आज वह उसी नई वोटिंग मशीन EVM के बारे में बताएँगे की EVM मशीन क्या है और इसका फुल फॉर्म क्या होता है इससे जुडी जानकारी आज हम आपसे शेयर करेंगे।

EVM मशीन है – What is EVM in Hindi

EVM Full Form in Hindi

EVM एक आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक वोर्टिंग मशीन है जो इलेक्ट्रिक पर चलती है इसके माध्यम से मतदाता आपकी पसंद के पार्टी को दे सकता है पहले के समय मे पोस्ट बैलेट बॉक्स जिसमे एक विशेष पेज पर अपने उमीदवार पर निशान लगाना होता था धीरे-धीरे इस तकनीक बढ़ने पर हमें ये ईवीएम दिखने को मिल रहा है।

इसके कुछ अलग प्रकार की तकनीक दिया रहता है जब आप वोट देने जाएँगे तो आपके सामने सारे पार्टी का नाम और चिन्ह रहता है और अंतिम वोट नोटा रहता है इसके साथ तो ओर यूनिट जुड़े रहते है कंट्रोल यूनिट ओर बल्लोटिंग यूनिट ये दोनों केवल के साथ जुड़े रहते है।

EVM Full Form in Hindi

EVM का फुल फॉर्म ‘Electronic Voting Machine’ होता है जिसका हिंदी मतलब मतदाता वोटिंग मशीन होता है यह एक प्रकार के नई तकनीक की वोटिंग मशीन है आपको बता दे की जैसे पहले समय में मतपत्र, मत-पर्ची (Ballot Paper) से वोटिंग कराई जाती थी जिसमे समय और मेहनत ज्यादा लगता था।

EVM – Electronic Voting Machine

वही आज के इस नई तकनीक में आई EVM  मशीन से वोटिंग करने के बाद वोटो को गणना करने में ज्यादा से ज्यादा 3-4 ही दिन लगता है और इसमें वोटो की बराबर गणना होती है और मेहनत के साथ साथ समय भी कम लगता है।

EVM का शुरुआत कैसे हुई

सन 1889 में भारतीय चुनाव आयोग ने इसे इलेक्ट्रॉनिक कोऑपरेशन इंडिया लिमिटेड के साथ मिलकर इसे ओर बेहतर मनाने कोसिस में लग गए ईवीएम के इलेट्रिक डिजाइनर IIT बॉम्बे के फैकेल्टी सदस्य थे भारत मे EVM की शुरुआत 1982 में केरल के उत्तर के विधानसभा के चुनाव के क्षेत्र में किया गया था

ये स्वचालित इलेक्ट्रिक वाला वोटिंग करने वाली मशीन थी जबकी 2004 में लोक सभा चुनाव के बाद से भारत के सभी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में मतदान Electronic Voting Machine द्वारा होने लगा।

EVM का आविष्कार किसने किया

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि EVM का खोज 1980 में M.B.Haneefa द्वारा किया गया था जिसे उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक स्वचलित मतगणना मशीन के नाम से 15 ऑक्टोबर 1980 को रजिस्ट्रेशन करवाया था।

ये सबसे पहले तमिलनाडु के 6 शहरों में आयोजित सरकारी कार्यालयों में जनता के लिए प्रदर्षित कराया गया था 1989 में इलेक्ट्रॉनिक कोऑपरेशन इंडिया लिमिटेड कस साथ मिलकर EVM मशीन बनाने की शुरुआत किया।

EVM से सम्बंधित रोचक तथ्य

आइये अब EVM(Electronic Voting Machine) के बारे में कुछ महत्पूर्ण जानकारी जान जाते है।

  • EVM का आविष्कार 1980 में M.B.Haneefa ने किया था 
  • EVM  दो डिवाइस कंट्रोल यूनिट और बैलेटिंग यूनिट से मिलकर बनी होती है  
  • दोनों डिवाइस एक-दूसरे के साथ 5 मीटर लंबी केबल से जुड़े रहते है 
  •  इन दोनों डिवाइस में कंट्रोल यूनिट, बैलेटिंग यूनिट को कंट्रोल करता है और बैलेटिंग यूनिट से मतदाता वोट दे पता है 
  • EVM की सबसे पहले इस्तेमाल 1982 में केरल के परूर विधानसभा क्षेत्र के 50 मतदान केंद्रों पर किया गया था

अब तो आप समझ गए होंगे कि EVM क्या होता है तथा EVM Full Form है इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आपको EVM के बारे अच्छी जानकारी मिल सकें।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे WhatsApp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

Related Articles :-

Leave a Comment