Evm क्या होता है ओर इसका फुल फॉर्म क्या है पूरी जानकारी

नमस्कार दोस्तो आज के इस आर्टीकल में जानेगें की EVM क्या होता है तथा इसका फुल फॉर्म क्या है इसके बारे में पूरे अच्छे तरह से जानने का प्रयास करेंगे हम जानते है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है यहाँ की सरकार यहाँ की जनता द्वारा चुनी जाती है यहाँ अलग-अलग क्षेत्र से लोक सभा तथा विधान सभा के लिए प्रतिनिधि चुनते है उसे चुनाव कहा जाता है स्वतंत्रता के बाद इंडिया में सबसे पहला चुनाव 25 ऑक्टोबर 1951 से 27 मार्च 1952 के बीच हुआ था।

Evm Kya Hota Hai
Evm का फुल फॉर्म क्या है

उस चुनाव के दौरान पोस्ट बैलेट बॉक्स जिसमे एक विशेष पेज पर अपने उमीदवार पर निशान लगाना होता था धीरे-धीरे इस तकनीक में भ्रस्टाचार ओर खामियां आने लगे कही-कही बूथ टूटने ओर कही दंगे देखा गया इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए भारत के चुनाव आयोग ने ऐसी मशीन की रचना की जिससे कम भ्रस्टाचार हो सके ओर लोकतंत्र पर कोई खतरा न हो पाए पिछले आर्टीकल में हम पढ़ चुके है कि नोटा क्या होता है तो आज के इस पोस्ट में हम बात करेंगे कि EVM क्या होता है तथा इसका फुल फॉर्म क्या है इससे जुड़ी सभी जानकरी जानेंगे तो शुरू करते है।

Evm क्या होता है

Evm एक आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक वोर्टिंग मशीन है जो इलेक्ट्रिक पर चलती है इसके माध्यम से मतदाता आपकी पसंद के पार्टी को दे सकता है पहले के समय मे पोस्ट बैलेट बॉक्स जिसमे एक विशेष पेज पर अपने उमीदवार पर निशान लगाना होता था धीरे-धीरे इस तकनीक बढ़ने पर हमें ये ईवीएम दिखने को मिल रहा है।

इसके कुछ अलग प्रकार की तकनीक दिया रहता है जब आप वोट देने जाएँगे तो आपके सामने सारे पार्टी का नाम और चिन्ह रहता है और अंतिम वोट नोटा रहता है इसके साथ तो ओर यूनिट जुड़े रहते है कंट्रोल यूनिट ओर बल्लोटिंग यूनिट ये दोनों केवल के साथ जुड़े रहते है।

Evm का फुल फॉर्म क्या होता है

चलिए जानते है कि Evm का फुल फॉर्म क्या होता है तो आपकी जानकारी के लिए बात दे Evm का फुल Elotronic Vorting Machine होता है।

Evm का शुरुआत कैसे हुई

सन 1889 में भारतीय चुनाव आयोग ने इसे इलेक्ट्रॉनिक कोऑपरेशन इंडिया लिमिटेड के साथ मिलकर इसे ओर बेहतर मनाने कोसिस में लग गए ईवीएम के इलेट्रिक डिजाइनर IIT बॉम्बे के फैकेल्टी सदस्य थे भारत मे Evm की शुरुआत 1982 में केरल के उत्तर के विधानसभा के चुनाव के क्षेत्र में किया गया था

ये स्वचालित इलेक्ट्रिक वाला वोटिंग करने वाली मशीन थी जबकी 2004 में लोक सभा चुनाव के बाद से भारत के सभी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में मतदान Elotronic Vorting Machine द्वारा होने लगा।

Evm का इतिहास

अब जानते है कि Evm का अविष्कार किसने किया था तो आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Evm का खोज 1980 में M.B.Haneefa द्वारा किया गया था जिसे उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक स्वचलित मतगणना मशीन के नाम से 15 ऑक्टोबर 1980 को रजिस्ट्रेशन करवाया था ये सबसे पहले तमिलनाडु के 6 शहरों में आयोजित सरकारी कार्यालयों में जनता के लिए प्रदर्षित कराया गया था 1989 में इलेक्ट्रॉनिक कोऑपरेशन इंडिया लिमिटेड कस साथ मिलकर Evm मशीन बनाने की शुरुआत किया।

निष्कर्ष:-

अब तो आप समझ गए होंगे कि Evm क्या होता है अगर आप बालिक है यानी आपका उम्र 18 साल से ज्यादा है तो अपने Evm का प्रयोग वोट देने के लिए जरूर किया होगा लेकिन बात ये आती है कि ईवीएम का इस्तमाल तो किये है पर हमें ये नही पता है कि ईवीएम क्या है ये एक गंभीर महत्वपूर्ण प्रश्न है इसलिए हम इस पोस्ट में ईवीएम के बारे में सारी जानकारी दिए है अगर आपको पोस्ट अच्छा लगे तो आगे दोस्तो में के साथ शेयर कीजिये।