दूध पीने के फायदे ओर नुकसान क्या होता है पूरे अच्छे से समझे

दोस्तो आज के आर्टीकल में हम जानेगे की दूध पीने के फायदे क्या है और दूध पीना का सही समय ओर तरीका कौन सा है जानेगे इससे जुड़ी हुई सारी बाते दूध एक अकेली एक ऐसी चीज होती है जिसमे संपूर्ण आहार होता है जिसके कारण नवजात शिशु को नवजात से 6 महीने तक दूध पिलाया जाता है अगर हम गर्म दूध के गुण के बारे में बात करे तो ये अमृत से कम नही है लेकिन बात ये आती है कि अगर हम किसी चीज का सही इस्तमाल करना नही आता है तो उसका फायदा होने के जगह उल्टा नुकसान होने लगता है।

dudh pine ke fayde
दूध पीने का फायदा

हम आपको बता दे कि दूध एनिमल प्रोडक्ट होता है जो हमे किसी जीवित प्राणी से मिलता है हर चीज जो हमे जीवित प्राणी से मिलती है जैसे- अंडा, सहद ओर घी आदि चीजे उसमे केमिकल रियेक्सन करने की टेंडेंसी ऊंची होती है जिसकी वजह से दूध का गलत मात्रा में इस्तमाल करने से हमारे शरीर को नुकसान हो सकता है इसलिए आज के इस पोस्ट में हम दूध पीने के फायदे ओर नुकसान क्या होता है ओर दूध पीने का सही समय क्या होता है इससे जुड़ी सारी बाते जानेगे तो चलिए शुरू करते है।

दूध को एक दिन में कितना पीना चाहिए

सबसे पहला सवाल ये आता है कि दूध को एक दिन में कितना पीना चाहिए ये जानने से पहले हमें ये जानना होगा कि दूध में क्या क्या होता है ओर ये कौन-कौन सी चीजो में फायदा पहुँचता है दूध पोषक तत्वो से भरपूर होता है इसलिए इसे सही तरीको से इस्तमाल करने पर हमारी पचान क्रिया को ठीक करता है, दिमाग के ताकत को बढ़ाने में सहियोग करता है, वजन बढ़ाने में ओर हड्डियों के कमजोरी जैसे समस्याओ का छुटकारा देता है।

इसके अलावा दूध का सेवन करने से रात को नींद अच्छी लगती है और बाल और त्वचा काफी अच्छे रहते है दूध में कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन डी की मात्रा ज्यादा होती है जहाँ 200 मिली दूध में लगभग 257 मिली ग्राम केल्सियम होता है और हमारे शरीर मे 1000 मिली ग्राम से लेकर 1200 मिली ग्राम तक केल्सियम चाहिए होता है इसलिए हर रोज एक से दो ग्लास दूध का सेवन काफी है क्योकि जाहिर से बात है आप केवल दूध तो पियेंगे नही बाकी ओर भी चीजे भी खायेंगे हालांकि अगर कोई मेहनत वाला काम करता हो या फिर जिम करता है तो उसको दूध की मात्रा थोड़ी बढ़ा लेनी चाहिए।

दूध पीने का सही समय क्या है

दूध का इस्तमाल कही भी कभी भी किया जा सकता है लेकिन रात के समय दूध का सेवन करना सबसे ज्यादा फायदेमंद माना जाता है क्योकि दूध में ट्रिप्टोफैन नाम का एसिड पाया जाता है जो दिमाग को शांत रखकर नींद लेने में फायदा साबित करता है आप सुबह खाली पेट दूध का सेवन कर सकते है लेकिन आपको कब्ज या अपचन जैसे समस्याएं है तो खाली पेट दूध का इस्तमाल करना उनके लिए सही नही है क्योकि दूध पचने में थोड़ा हेवी होता है खाली पेट सेवन करने से हमारी पाचनतंत्र को थोड़ा ज्यादा मेनहत करनी पड़ती है।

दूध ठंडा या गर्म पीना चाहिए

अब बात आती है कि दूध किस तरह का पीना चाहिए ठंडा या गर्म गाय का या फिर भैस का तो सही मयिने में दूध को गुनगुना ही पीना चाहिए क्योकि पचने में ज्यादा मददगार होता है क्योकि दूध हेवी होता है ठंडा दूध और भी ज्यादा हेवी होता है जो आपके पाचनतंत्र को मेहनत को ओर भी ज्यादा बढ़ा देता है।

दूध गाय का या भैस का पीना चाहिए है

अब ये बात करते है कि गाय का दूध पीना चाहिए या फिर भैस का आपकी जानकारी के लिए बता दे दोनों के दूध में कैल्शियम की मात्रा भरपूर होती है लेकिन भैस के दूध में फैट्स ओर कैलरी ज्यादा होती है इसका मतलब अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते है तो आपके लिए भैस का दूध सही है और अगर आप वजन घटाना चाहते है तो आपके लिए गाय का दूध सही है।

दूध पीने के फायदे ओर नुकसान क्या होता है

अब बात आती है है कि दूध के साथ किन-किन चीजों को खाना चाहिए और किन-किन चीजो को नही खाना चाहिए जैसे क्या दूध को केले, अण्डे ओर चीनी के साथ पीना चाहिए जो इसके जवाब के तौर पर बताना चाहेंगे कि दूध में हॉर्मोन एंजाइम्स ओर एमिनो एसिड की मात्रा ज्यादा होती है जिसकी वजह से दूध ठीक से नही पच पता है और इससे मिलने वाले फायदे हम तक नही पहुच पाते अगर हम बात करे कि दूध कब नही पीना चाहिए तो खाना खाने के तुरंत बाद दूध नही पीना चाहिए।

क्योकि दूध एक वक्त के खाना के बराबर होता है अगर आप खाना खाने बाद पी लेंगे तो ये ज्यादा हेवी हो जाएगा जिसकी वजह से आपकी पाचन प्रक्रिया सही से काम नही करेगी न खाने के सही गुण मिलेंगे न पीने के दूध के साथ खट्टी ओर चटपटी चिझे किसी भी तरह कोई ताल मेल नही रखती अगर दोनों को एक साथ खाया जाएगा तो पाचन प्रक्रिया ठीक से काम नही करेंगी अपचन ओर जैसी समस्याएं बढ़ने लगेगी बहुत सारे लोग दूध का सेवन सेब या केले के साथ सेक बनाकर सेवन करते है

अगर आपको पाचन की समस्या नही है तो बेसक इस तरह का सेक बना सकते है अगर आपकी पाचन प्रक्रिया सही से काम नही करती है तो इस तरह का मिलावट बिल्कुल भी न करे क्योकि दूध पहले से ही काफी हेवी होता है

और उसके साथ फल का सेवन करना और भी हेवी हो जाता है जो पेट की समस्या को पैदा करता है कोई लोगो को दूध में चीनी डालकर पीने की आदत है तो हम आपको बता दे कि दूध में पहले से लेक्टोज नामक शुगर रहता है जिसको मीठा बनाता है अगर आपको ज्यादा मीठा पसंद है तो चीनी छोड़कर सहद या मिश्री का इस्तमाल कर सकते है क्योंकि चीनी का इस्तमाल से दूध का पोषकतत्व नस्ट कर देता है इसलिए कभी भी दूध में चीनी डालकर न पिएं इसके अवाला खाने के बाद कम से कम 2 घंटे के बाद ही दूध सेवन करे।

अगर हम दूध के साथ मांस, मछली जैसे चीजो के बात करे तो इसमें भी दूर-दूर तक इन दोनों का ताल मेल नही बैठता है कहा जाता है कि दूध के साथ मछली का सेवन करने से शारीर में सफे8द धब्बे पड़ जाते है हॉ अगर चाहे तो दूध के साथ अंडे का सेवन कर सकते है लेकिन ध्यान रखते हुए की अंडे की मात्रा काफी हद तक कम होनी चाहिए क्योंकि ये काफी हेवी हो जाएंगे तो आप समझ गए होंगे कि दूध का सेवन खाने खाने के बाद 2 या 3 घंटे के बाद ही सेवन करे।

हमने क्या सीखा –

इस आर्टिकल में हमने पढ़ा की दूध पीने के फायदे ओर नुकसान क्या होता है इसके के बारे में बहुत से आसान शब्दों में स्टेप बाई स्टेप बताया गया है ताकि आपको अच्छी तरह समझ में आ सके।

दोस्तो कैसा लगा ये पोस्ट Comment Box में जरूर बताएं ओर आपका कोई सवाल है तो Comment Box में पूछ सकते है।

अगर ये Post अच्छा लगे तो अपने दोस्तों के साथ Whatsapp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।