close button

Cricket Umpire Kaise Bane | जानिए 2022 में क्रिकेट अंपायर कैसे बने

Cricket Umpire Kaise Bane : दोस्तो आज का हमारा टॉपिक खेल के ऊपर होने वाला है आज के आर्टीकल में हम जानेंगे कि क्रिकेट अंपायर कैसे बने इसके बारे में हम बहुत ही सरल शब्दों में अध्ययन करेंगे क्रिकेट के दीवाने केवल भारत में ही नहीं बल्कि पुरे दुनियाभर में है।

क्रिकेट को बच्चे, जवान और बूढ़े सभी उम्र के लोग पसंद करते है जब भी किसी भी तरह का क्रिकेट मैच होता है जैसे, आईपीएल, वर्ल्ड कप आदि।

तो पुरे दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमी सभी काम को जल्दी से निपटाकर क्रिकेट का लाइव प्रसारण देखते है हमारे देश मे एक से बढ़कर एक खिलाड़ी है जैसे- सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी, युराज सिंह ओर विराट कोहिली इतना ही नही बल्कि बहुत से ऐसे खिलाड़ी है जिनका जिनके प्रदर्शन के बारे बताना थोड़ा मुश्किल होगा अपने देखा ही होगा।

आज हम किसी खिलाड़ी के ऊपर बात नही बल्कि एंपायर के बारे में बात करेंगे जिनको क्रिकेट का न्यायधीश कहा जाता है जिनका एक इशारा सबको मनना पड़ता है इस आर्टीकल में हम जानेंगे कि अंपायर क्या होता है तथा क्रिकेट अंपायर कैसे बने इससे जुड़ी जानकारी हम बहुत ही आसान भाषा मे पढेंगे तो चलिए जानते है।

क्रिकेट अंपायर क्या होता है

Cricket Umpire Kaise Bane

फुटबॉल के बाद क्रिकेट दुनिया का दूसरा सबसे लोकप्रिय खेल है क्या आप ऐसे क्रिकेट मैच की बता कर सकते है जो बिना अंपायर के हो शायद नही क्रिकेट के खेल में अंपायरों की भूमिका न्यायपालिका या जजों की तरह होती है।

कई अवसरों पर तो अंपायर खेल का परिणाम तय करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है अगर क्रिकेट मैच में खिलाड़ी का कोई भी हरकत की एंपायर द्वारा दर्शाया जाता है ये बहुत बड़ा डिसीजन होता है ये उनपर डिपेंड करता है कि उनका निर्णय क्या है।

क्रिकेट अंपायर कैसे बने 

आपको एक अच्छा Cricket Umpire Banane के लिए आपको सबसे पहले क्रिकेट के प्रति रूचि होना जरुरी है और क्रिकेट के सभी छोटे बड़े नियमों के बारे में अच्छी समझ होनी चाहिए ताकि आप एक किसी भी क्रिकेट प्लेयर के प्रति सच्चा और सटीक डिसीजन दे सकें क्रिकेट अंपायर बनाने के लिए कई बार राज्य स्तरीय क्रिकेट बोर्ड द्वारा लिखित और प्रायोगिक एग्जाम का आयोजित होता है।

इस परीक्षाओ की पूरी जानकारी अपने राज्य के स्तरीय क्रिकेट बोर्ड की वेबसाइट पर जाकर अच्छी जानकारी ले सकते है इन परीक्षाओ के लिए कोई ट्विसन नहीं होता है अगर आप क्रिकेट से रूचि रखते है आपको क्रिकेट के रूल्स के बारे में जानकारी पता है तो आप आसानी से यह परीक्षा निकाल सकते है।

आप जब राज्य स्तरीय द्वारा परीक्षा में पास हो जाएंगे तो आपको Cricket Umpire Banane वाले BCCI द्वारा आयोजित एग्जाम का योग्य माना जाता है इसमें BCCI खुद Umpire की क्लासेस लगवाकर एग्जाम की तैयारी करवाती है उसके बाद खुद BCCI परीक्षा लेती है अगर आप इस परीक्षा पास हो जाते है

तो आपको BCCI पास हुए उम्मीदवार ट्रेनिंग के लिए भेजती है उसके बाद घरेलू मैच में अंपायरिंग करने का मौका देती है अगर आपका क्रेडिट सही रहा तो आपको रास्ट्रीय और उसके बाद अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अंपायरिंग करने का मौका मिलता है।

क्रिकेट अंपायर बनाने की योग्यता 

अंपायर बनने से पहले किसी भी आवेदक के लिए प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खिलाड़ी होना जरूरी नहीं है हा अगर किसी ने पहले क्रिकेट खेला हो तो यह एक अतिरिक्त योग्यता माना जायेगा अंपायर के पद के लिए आवेदन करने से पहले आपके पास निम्न योग्यताएं होनी चाहिए।

  1. उत्तम नेत्र ज्योति (आँख की दृष्टि अच्छी होनी चाहिए)
  2. अच्छी फिटनेस
  3. क्रिकेट के नियमों की पूरी जानकारी

क्रिकेटरों की तरह अंपायरों को भी उनके लगातार प्रदर्शन के आधार पर आंका के लगातार जाता है और जो अंपायर जितनी गलतियाँ करता है उसको उसी हिसाब से विभिन्न ग्रेड में बांटा जाता है BCCI ने अंपायरों को चार ग्रेड में विभाजित किया है।

  1. ग्रेड A: इस सूची में अभी 20 अंपायर हैं।
  2. ग्रेड B: इस सूची में अभी 25 अंपायर हैं।
  3. ग्रेड C: इस सूची में अभी 35 अंपायर हैं।
  4. ग्रेड D: इस सूची में अभी 40 अंपायर हैं।

क्रिकेट अंपायर बनने की उम्र सीमा 

क्रिकेट अंपायर बनने के आपकी उम्र कम से कम 19 वर्ष और ज्यादा से ज्यादा 58 वर्ष होना चाहिए यही उम्र में आप क्रिकेट अंपायर बन सकते है।

क्रिकेट अंपायर बनने की प्रक्रिया

  1. पहला चरण :- सबसे पहले राज्य के क्रिकेट संघ के साथ पंजीकरण करना होता है क्योंकि आपके नाम की सिफारिस राज्य संघ के द्वारा ही BCCI को भेजी जाती है।
  2. दूसरा चरण :- एक बार जब आप स्थानीय मैचों में भाग लेंगे तो राज्य संघ आपके नाम को BCCI को प्रत्येक वर्ष या हर दो वर्ष  में एक बार आयोजित की जाने वाली लेवल एक की परीक्षा के लिए भेजेता है।
  3. तीसरा चरण:- BCCI सभी आवेदकों के लिए केवल तीन दिनों के लिए कोचिंग क्लासे की व्यवस्था करता है उसके बाद चौथे दिन लिखित परीक्षा कराई जाती है इस परीक्षा में मेरिट के आधार पर उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट किया जाता है शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों को एक इंडक्शन कोर्स के लिए आना होता है जहां खेल के नियमों पर और उससे सम्बंधित संदेहों को क्लियर किया जाता है।
  4. चौथा चरण :- शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों के लिए एक और परीक्षा आयोजित की जाती है, जो प्रैक्टिकल आधारित साथ में मौखिक भी हो सकती है।
  5. पाँचवा चरण :- जो लोग लेवल 1 की परीक्षा को क्लियर करते हैं, उन्हें लेवल 2 की परीक्षा में भाग लेना होता है, जो आमतौर पर एक वर्ष की अवधि के बाद आयोजित की जाती है।
  6. छठा चरण :- लेवल 2 की परीक्षा लिखित, प्रैक्टिकल और वायवा के रूप में होती है और जो लोग इसे क्लियर करते हैं, उनका मेडिकल टेस्ट किया जाता है।
  7. सातवा चरण :- जो लोग लेवल 2 की परीक्षा और मेडिकल टेस्ट को क्लियर करते हैं उन्हें एक और इंडक्शन प्रोग्राम से गुजरना पड़ता है और जो इसको पार कर लेता है उसको BCCI का अंपायर घोषित कर दिया जाता है।

इसके बाद अंपायरिंग की शुरुआत भारत में आयोजित होने वाले रणजी ट्राफी, देवधर ट्राफी इत्यादि के मैचों से होती है और फिर अधिक अनुभव के बाद इंटरनेशनल मैचों में अंपायरिंग का मौका दिया जाता है। अगर आप भी क्रिकेट अंपायर बनना चाहता है।

तो आपको अच्छे ज्ञान और सही नज़र के साथ इस खेल के लिए जुनून रखने की ज़रूरत है BCCI परीक्षा को पास करने के लिए बाजार में बहुत सी किताबें उपलब्ध हैं। इसके अलावा इस परीक्षा से सम्बंधित सामग्री इन्टरनेट पर भी उपलब्ध है।

क्रिकेट अंपायर की सैलरी कितनी होती है

BCCI की रिटायरमेंट पालिसी के अनुसार होती है जो अंपायर केवल फर्स्ट क्लास मैचों में अंपायरिंग करते हैं उनको 55 के आयु वाले रिटायर कर दिया जाता है लेकिन एक दिवसीय मैचों की अंपायरिंग करने वालों को 58 वर्ष और टेस्ट मैचों में अंपायरिंग करने वालों के लिए रिटायरमेंट ऐज 60 वर्ष है।

BCCI “ग्रेड ए” के सभी अंपायरों को लगभग 40 हजार रुपये प्रतिदिन होता है जबकि अन्य अंपायरों को लगभग 30 हजार रुपये प्रतिदिन दिया जाता है।

क्रिकेट अंपायर की सैलरी कितनी होती है BCCI की रिटायरमेंट पालिसी के अनुसार होती है जो अंपायर केवल फर्स्ट क्लास मैचों में अंपायरिंग करते हैं उनको 55 वर्ष की उम्र में रिटायर कर दिया जाता है।

लेकिन एक दिवसीय मैचों की अंपायरिंग करने वालों को 58 वर्ष और टेस्ट मैचों में अंपायरिंग करने वालों के लिए रिटायरमेंट ऐज 60 वर्ष है| BCCI “ग्रेड ए” अंपायरों को 40,000 रुपये/दिन देता है जबकि अन्य को 30,000 रुपये प्रतिदिन दिया जाता है।

Conclusion

अब तो आप समझ गए होंगे कि Cricket Umpire Kaise Bane इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आपको तमिलनाडु के बारे अच्छी जानकारी मिल सकें।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडिया पर जरुर Share करे।

Related Articles:-

1 thought on “Cricket Umpire Kaise Bane | जानिए 2022 में क्रिकेट अंपायर कैसे बने”

Leave a Comment