close button

ATM Full Form: एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है पूरी जानकारी

दोस्तो क्या आपको पता है कि एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है (ATM Full Form) अगर नही जानते है तो ये पोस्ट आपके लिए है क्योंकि इस पोस्ट में ATM से जुड़ी सभी जानकारी इस पोस्ट में जानने वाले है आज के तकनीक दौर मे एटीएम के बारे में कौन नही जानता है लगभग सभी बैंक पासबुक के साथ-साथ एटीएम (ATM) भी प्रोवाइड करती है।

जिससे कस्टमर को पैसे निकालने में कोई परेशानी न हो और कस्टमर किसी भी एटीएम बूथ में जाकर आसानी से पैसे निकाल सकें ओर एटीएम के जड़िये हम कई सारे ऑनलाइन-ऑफलाइन शॉपिंग भी कर सकते है तथा हम में से अधिकत्तर लोग सोचते होंगे कि एटीएम मशीन के अंदर पैसे छापने का मशीन होगा इसलिए तुरंत पैसे छपकर बाहर निकल जाते है।

लेकिन इसके पीछे का राज क्या है इस पोस्ट में पता चल जाएगा तथा क्या आप जानते है कि ATM क्या होता है, एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है (ATM Full Form) तथा एटीएम कैसे काम करता है अगर आप इन सब के बारे में पूरी अच्छी तरह से जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़े तभी अच्छी तरह से समझ पाएंगे।

ATM क्या होता है (ATM Full Form Hindi)

ATM Full Form

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एटीएम का अर्थ स्वचलित टेलर मशीन (Automatic Teller Machine) होता है जो एक प्लास्टिक कार्ड होता है यह 24 घंटे पैसे निकालने ओर जमा करने का सेवा प्रदान करता है भारत मे सभी व्यपारिक बैंक जैसे- Sate Bank of India, Central Bank of India, Panjab National Bank इत्यादि बैंकों द्वारा एटीएम का सुविधा प्रदान की जाती है।

एटीएम में एक गुप्त पिन नंबर होता है जिसकी जरूरत जब हम एटीएम से पैसे निकालते है तब इस पिन की जरूरत पड़ती है एटीएम से पैसे निकालने के अलावा और भी कार्य किये जाते है जैसे- पैसा ट्रांसफर करना, बैलेंस चेक करना, मिनी स्टेटमेंट आदि चीजें आसानी से कर सकतें है।

एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है (ATM Full Form)

जैसे कि हम जानते है कि एटीएम एकइलेक्टोनिक मशीन है जो कंप्यूटर की तरह काम करता है लेकिन बात आती है कि एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है (ATM Full Form) तो हम आपको बता दे कि एटीएम का फुल फॉर्म Automated Teller Machine होता है जिसका हिंदी मतलब स्वचालित गणक मशीन होता है।

एटीएम कैसे काम करता है

हम जान चुके है कि ATM Full Form क्या होता है अब हम जनेंगे एटीएम कैसे काम करता है आज के तकनीक दौर में एटीएम के बारे में कौन नही जानता है और इसे पैसे निकालना आम बात हो गयी है लेकिन आज के समय मे भी बहुत लोगो को ये नही पता होता है एटीएम कैसे काम करता है अगर आपको भी नही पता है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे एटीएम मशीन इंटेरनेट द्वारा चलती है।

आपने अक्सर देखा होगा कि एटीएम कार्ड के पिछले वाले हिस्सा में काला रंग का लंबा पट्टी होता है उसे हम मैग्नेटिक चिप होता है उसी के अंदर सारें इन्फॉर्मेशन मौजूद होता है उसके नीचे आपको होलोग्राम देखने को मिल जाते है ओर फिर फ्रंट साईट में बैंक अकाउंट की पूरी जानकारी मिलती है।

लेकिन अब हम जानते है कि जब आप कार्ड को एटीएम मशीन में डालते है तो कैसे मिलते है आप जानते ही होंगे कि एटीएम कार्ड के पीछे जो ब्लेक कलर का पट्टी होता है जिसमे अगर हल्का भी स्क्रेच आ गए तो एटीएम कार्ड काम नही करता है इसका वजह यही है कि उस ब्लैक कलर पट्टी में आपके एकाउंट का सारा इन्फॉर्मेशन कंप्यूटर लैंग्वेज उसी पट्टी में मौजूद होता है।

जैसे ही कोई कार्ड एटीएम मशीन में डाला जाता है तो एटीएम मशीन में डोस क्लीनर होते है वो चेक करते है कि एटीएम कार्ड ठीक है या नही तथा कार्ड में कितने रुपये है आदि चीजे चेक करता है अगर सभी चीज ठीक है तो आपका अकॉउंट का सभी डिटेल्स बैंक के सर्वर तक जाता है ओर सर्वर आपके द्वारा Enter किया गया Amount कैस के रूप में मशीन से बाहर आता है।

एटीएम मशीन में पैसे कहाँ से आते है

अब हम जानते है कि एटीएम मशीन में पैसे कहाँ से आते है तो हम आपकी जानकारी के लिए दे एटीएम मशीन में कोई प्रिंटिंग मशीन द्वारा पैसे नही आते है बल्कि आम आदमी द्वारा पैसे डाले जाते है इस मशीन को खोलने के लिए एक अलग से चाबी आती है।

उस चाबी द्वारा खोलकर उसमें बने ट्रे में पैसे को सजाया जाता है बेसिक एटीएम मशीन में सारे भर दिए जाते हैं लेकिन ऑल इन वन एटीएम मशीन में सारे ट्रे भरकर एक ट्रे खाली छोड़ दिया जाता है क्योंकि इस ट्रे में चेक ओर पैसे कलेक्ट किये जाते है ओर बाद में इसे निकालकर बैंक में भेज दिए जाते है।

एटीएम मशीन का प्रकार

एटीएम मशीन कई तरह की होती है लेकिन हमारे भारत मे ज्यादातर दो प्रकार के एटीएम मशीन होती है जिसमे पहला पहला बेसिक एटीएम मशीन ओर दूसरा आल इन वन एटीएम मशीन होती है जो नईनिम्नलिखित है।

  1. Basic ATM Machine: यह एटीएम मशीन नर्मल कार्यो के लिये इस्तेमाल किया जाता है जिससे आप केवल पैसे निकाल सकते है इसका ज्यादा तर उपयोग मॉल, रेलवेस्टेशन, ऐयरपोर्ट आदि जगहों पर इस्तेमाल किया जाता है।
  2. All In One ATM Machine: यह एटीएम मशीन काफी कम जगहों पर देखे जाते है इसमे आप केवल पैसे ही नही निकाल सकते है बल्कि इसके द्वारा एकाउंट में पैसे भी डाल सकते है यह मशीन ज्यादेतर बैक के अगल-बगल में देखने को मिलता है।

एटीएम स्कैम से कैसे बचें

अपने कभी सुना होगा कि बिना पैसे निकाले हमारे ATM से पैसे कट जाते है इस Scam से कैसे बचें चलिये जानते है।

  1. सबसे पहले ओर सबसे जरूरी चीज किसी अंजान व्यक्ति से अपना एटीएम कार्ड का पिन शेयर न करें।
  2. एटीएम कार्ड पर लिखा हुआ नम्बर, कोड आदि चीज किसी से शेयर न करें।
  3. जब भी आप एटीएम मशीन के पास जाते है वहां अच्छी तरह से देख ले कि वहां कोई ट्रैकिंग डिवाइस तो नही लगी है।
  4. जब भी आप एटीएम मशीन में पिन डार रहें हो तब आजु-बाजू देख लो कि कोई मिनी कैमरा आपको कही देख तो नही रहा है क्योंकि कई सारे हैकर्स माइक्रो कैमरा लगा देते है।
  5. अंतिम में जब आप पैसे निकाल लेते है तो आपके आपको Clear बटन दिया हुआ रहता है उसे Press कर दे ताकि कोई भी आपके एटीएम कार्ड का इन्फॉर्मेशन एटीएम मशीन में न रहें ये इसलिए क्योंकि आपके बाद पैसे निकालने वाला या कोई हैकर आपकी इन्फॉर्मेशन को हैक न कर ले इस लिए सावधान रहना चाहिए।

एटीएम कार्ड के बारें में कुछ रोचक बातें

  1. एटीएम कार्ड प्लास्टिक का बना होता है तथा भारत का सबसे एटीएम सितम्बर 1987 में मुंबई के City Bank तथा HSBC बैंक में लगाया गया था।
  2. एटीएम कार्ड का सबसे पहले इस्तेमाल करने वाला एक कॉमेडियन अभिनेता था जिसका नाम Reg Warne था।
  3. भारत का सबसे ऊंचा एटीएम बूथ नाथू ला में है जो भारत और चीन के बॉर्डर पर सैनिकों के लिए लगाया गया है।
  4. दुनिया मे सबसे ज्यादा एटीएम बूथ वाला देश साउथ कोरिया है।
  5. एटीएम के पीछे वाले हिस्सा में जो ब्लैक कलर का पट्टी होता है उसी में हमारें पूरे एकाउंट का इन्फॉर्मेशन मौजूद होता है।

निस्कर्ष –

अब तो आप जान गए होंगे कि ATM कैसे काम करता है तथा एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है (ATM Full Form) इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आप अच्छी तरह से समझ सकें।

अगर आपको ATM के बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे Whatsapp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

इसे भी पढ़े – 

4 thoughts on “ATM Full Form: एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है पूरी जानकारी”

Leave a Comment