अरुणाचल प्रदेश की राजधानी कहाँ है – Arunachal pradesh ki rajdhani kya hai

आज आपको हम बताएँगे की अरुणाचल प्रदेश की राजधानी कहाँ है – Arunachal pradesh ki rajdhani kya hai अरुणाचल प्रदेश भारत 24वां राज्य है यह एक ऐसा राज्य जहाँ जाने के लिए परमिट लेना पड़ता है यह राज्य काफी खुबसूरत है भारत का यह एक सुन्दर राज्य अरुणाचल प्रदेश की जिसे भारत का फिनलैंड भी कहाँ जाता है जो अपने आप में एक स्वर्ग से कम नहीं है।

जहाँ आपको हरियाली भरे पहाड़ और बर्फीले भरे चोटियों से, फूलो से महकते मैदान यहाँ आने वालो का मन मोह लेता है भारत के इस सुन्दर राज्य अरुणाचल प्रदेश की राजधानी क्या है सभी भारतवासी जानने के लिए व्याकुल है अगर आप अरुणाचल प्रदेश की राजधानी जानना चाहते है तो पोस्ट पर बने रहे अरुणाचल प्रदेश राज्य भारत के एक उत्तर-पूर्वी राज्य है।

इस राज्य के सीमाएं दक्षिण में असम दक्षिणपूर्व में नागालैंड पूर्व में बर्मा/म्यांमार पश्चिम में भूटान और उत्तर में तिब्बत से मिलती हुई प्रतीत होती है अरुणाचल प्रदेश राज्य का गठन 20 फ़रवरी 1987 को हुआ था यह प्रदेश चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र के साथ 1,129 किलोमीटर सीमा साझा करता है 2011 के जनगणना के अनुसार अरुणाचल प्रदेश की आबादी 1,382,611 और राज्य का क्षेत्रफल 83,743 वर्ग किलोमीटर (32,333 वर्ग मील) है यह नैतिक रूप से विविध राज्य है।

यहाँ मुख्य रूप से पश्चिम में मोनपा लोग, केन्द्र में तानी लोग, पूर्व में ताई लोग और दक्षिण में नागा लोग निवास करते है अरुणाचल प्रदेश क्षेत्रफल ( के दृष्टि से 14वां सबसे बड़ा और जनसँख्या के दृष्टि से 27वां सबसे बड़ा राज्य है आइये पहले जानते है की अरुणाचल प्रदेश की राजधानी कहाँ है – Arunachal pradesh ki rajdhani kya hai और इस राज्य से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण जानकारी जानते है।

अरुणाचल प्रदेश की राजधानी कहाँ है 

Arunachal pradesh ki rajdhani kya hai

अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर है ईटानगर नाम ईटा दुर्ग नाम से लिया गया है यहाँ पर्यटक ईटा किला देख सकते है इस किले का निर्माण 14-15 शताब्दी के बिच राजाओ ने किया था इसी किले के नाम पर ईटानगर शहर का नाम पड़ा है यह राज्य भारत के उत्तर-पूर्वी दिशा में स्थित है प्रदेश का सबसे बड़ा शहर अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर ही है।

यह शहर राजधानी होने के कारण राज्य का मुख्य शहरो के सूची में सबसे ऊपर आता है यह शहर हिमायल के तराई में बसा हुआ है प्रशासनिक दृष्टि देखा जाये तो यह पपुम पारे ज़िले में स्थित है और दिकरोंग नदी के किनारे बसा हुआ है यहाँ की आबादी 13,83,727 के आस-पास है व घनत्व 17/किमी² है।

अरुणाचल प्रदेश में कुल 25 जिले है यहाँ का राज्य भाषा अंग्रेजी है भौगोलिक दृष्टि अगर देखा जाये तो पूर्वोत्तर के राज्यों में भारत का सबसे बड़ा राज्य अरुणाचल प्रदेश है वर्तमान समय भारत के अलग-अलग राज्यों से लोग आकर इस प्रदेश में आकार बसे हुए है पुराने समय में पूर्वात्तर सीमांत एजेंसी (नार्थ ईस्ट फ्रंटियर एजेंसी- नेफा) के नाम से जाना जाता था।

इस प्रदेश के पश्चिम, उत्तर और पूर्व में क्रमश: भूटान, तिब्बत, चीन और म्यांमार देशों की अंतरराष्ट्रीय सीमाएं भी मौजूद हैं शहर की ऊंचाई समुद्रतल से 350 मी. पर है अरुणाचल प्रदेश पर्यटकों के लिए एक अच्छा स्थान है यहाँ पर कई सारे अद्भुत चीजे देखने को मिल जाएँगी जो आम आदमी को देखना दुलभ है।

अरुणाचल प्रदेश और उसकी राजधानी जुड़े कुछ रोचक तथ्य 

हरे भरे जंगल और पहाडीयों  से घिरा हुआ अरुणाचल प्रदेश भारत का एक खुबसूरत राज्यों में से एक है आइये अरुणाचल प्रदेश राज्य के बारे में कुछ रोचक अन सुनी जानकारी जानते है।

  • अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर है व यहाँ का राज्य भाषा हिंदी और अंग्रेजी है।
  • वर्ष 2012 के अनुसार अरुणाचल प्रदेश की कुल आबादी 12.6 लाख है यहाँ की साक्षरता दर 1991 में 41.59 % से बढ़कर 54.74 % हो गयी है।
  • अरुणाचल प्रदेश की अन्तर्राष्ट्रीय सीमा चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र के साथ 1,129 किलोमीटर सीमा से मिलती है 
  • आपको बता दे की लोहित नदी भारत के अरुणाचल प्रदेश और असम में बहने वाली एक नदी है।
  • अरुणाचल प्रदेश का अर्थ “उगते सूर्य का पर्वत” होता है 
  • अरुणाचल प्रदेश का क्षेत्रफल 83 हजार 743 वर्ग किलोमीटर है भारत के सबसे बड़े राज्यों में अरुणाचल प्रदेश 14वें नंबर पर आता है।
  • भारत का सबसे ज्यादा जंगली क्षेत्र के मामले में अरुणाचल प्रदेश दुसरे नंबर पर आता है यहाँ लगभग 79.63% एरिया में जंगल है।
  • अरुणाचल प्रदेश में हिन्दू धर्म को मनाने वाले 29.4% लोग है।

अरुणाचल प्रदेश में पर्यटन स्थल

अरुणाचल प्रदेश आने वाले पर्यटकों को हर पहलु से रु बरु होना पड़ता है यहाँ पूजा और तीर्थ स्थान के लिए बहुत से मनमोहक जगह है साथ ही राज्य में झीले की सुन्दरता देखने लायक है अगर आपको प्रकिर्तिक से लगाव है तो तो अरुणाचल प्रदेश आपको घुमने जुरूर जाना चाहिए आइये अरुणाचल प्रदेश राज्ये में कुछ विशेष पर्यटणन स्थल के बारे में जानते है।

पर्यटल स्थल का नामस्थान का नाम
पौराणिक गंगा झील ईटानगर से 6 किलोमीटर
की दूरी पर
बौद्ध मंदिर
ईटानगर, अरुणाचल प्रदेश
पापुम पेर
पासीघाट, अरुणाचल प्रदेश
ज़ीरो अरुणाचल प्रदेश
बोमडिला बोमडिला, अरुणाचल प्रदेश
भालुकपोंग भालुकपोंग, अरुणाचल प्रदेश
रोइंग रोइंग, अरुणाचल प्रदेश
खोंसा खोंसा, अरुणाचल प्रदेश
यिंगकिओनगयिंगकिओनग ऊपरी
सियांग जिले, अरुणाचल प्रदेश
मेचुका मेचुका, अरुणाचल प्रदेश
पखुई वन्यजीव अभयारण्यपखुई वन्यजीव अभयारण्य
बोमडिलाबोमडिला, अरुणाचल प्रदेश

FAQ – अक्सर पूछे जाने वाला सवाल

अरुणाचल प्रदेश की राजधानी क्या है?

अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर है और ईटानगर अरुणाचल प्रदेश का सबसे बड़ा शहर है।

अरुणाचल प्रदेश में कुल कितने जिले है 

अरुणाचल प्रदेश में कुल 25 जिले है क्षेत्रफल के हिसाब से दिबांग घाटी सबसे बड़ा जिला है और दिवांग घाटी सबसे छोटा ज़िला है।

वर्तमान में अरुणाचल प्रदेश की आबादी कितनी है?

साल 2012 के अनुसार अरुणाचल प्रदेश की जनसख्या 12.6 लाख है।

अरुणाचल प्रदेश की स्थापना कब हुआ था?

अरुणाचल प्रदेश की स्थापना 20 फ़रवरी 1987 को हुई थी।

अरुणाचल प्रदेश घुमने के लिए सबसे अच्छा समय कौन सा है?

अरुणाचल प्रदेश घुमने के लिए सबसे अच्छा समय नवंबर से अप्रैल के बिच अच्छा समय मना जाता है क्योकि इस समय मौसम अनुकूल रखता है।

अरुणाचल प्रदेश की भाषा क्या है?

अरुणाचल प्रदेश की राजकीय भाषा अंग्रेजी है।

अरुणाचल प्रदेश शब्द का शाब्दिक अर्थ क्या है?

अरुणाचल का अर्थ हिन्दी में “उगते सूर्य का पर्वत” है (अरूण + अचल ; ‘अचल’ का अर्थ ‘न चलने वाला’ = पर्वत होता है।

वर्तमान में अरुणाचल प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन है?

वर्तमान अरुणाचल प्रदेश का मुख्यमंत्री पेमा खांडू है।

अब तो आप समझ गए होंगे कि अरुणाचल प्रदेश की राजधानी कहाँ है ( Arunachal pradesh ki rajdhani kya hai) इसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आप आईपीएल के पूरा सीरीज देख पाएं।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे Whatsapp, Instagram, Twitter, Telegram, Facebook पर जरुर Share करे।

इसे भी पढ़े –

Leave a Comment