close button

AC Full Form in Hindi | AC में 1 Ton, 2 Ton, 3 Ton क्या है

AC Full Form in Hindi : क्या आपको मालूम है कि AC का फुल फॉर्म क्या होता है और Ac कितने वाट का होता है अगर नही तो इस पोस्ट को पढ़ने के बाद ऐसी का बारे में सभी जानकारी जान जाएंगे दोस्तो ज्यादेतर गर्मियों के मौसम में जब सूर्य के किरणें हमारे शरीर पर पड़ती है तो हमारे शरीर झुलस जाता है।

ज्यादेतर शहरी क्षेत्रो में AC को अपने घरों में लगवाते हैं ताकि गर्मियों के मौसम में कमरा ठंडा रहें और हम चैन की सांस ले सकें अगर आप गांव में रहते है तो आपने अक्सर ATM में, बैक में, मॉल में, सरकारी दफ्तर आदि जगहों पर आपको ऐसी देखने को मिलता होगा।

गर्मियों के मौसम में AC का बहुत महत्वपूर्ण योगदान होता है आजकल लगभग सभी शहरी सभी के घरो, ऑफिसों, गाड़ियों में AC देखन को मिल जाता है

लेकिन आपको पता है कि AC Full Form क्या होता है और AC में 1 Ton, 2 Ton, 3 Ton क्या है इस प्रकार के अधिक्तर सवाल जॉब इंटरव्यू, कॉलेज इंटरव्यू, सरकारी परिक्षओ आदि में पूछे जाते है अगर आप ऐसी के बारे में जानकारी जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़े।

AC क्या होता है – What is AC in Hindi

AC Full Form in Hindi

AC एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसका काम कमरे के हवा को ठंडा करना होता है ऐसी कमरे का गर्म हवा को बाहर निकलता है और ठंडी हवा कमरे में डालता है इतना ही नही बल्कि उस ठंडी हवा को फिल्टर कर देता है जिससे निकलने वाली ठंडी हवा ताजी होती है जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक होता है ऐसी का पावर को BTU (British Thermal Unit) में मापा जाता है।

ऐसी का बनावट विभिन्न प्रकार के उपकरणों से मिलकर बना होता है जिसमे सबसे अहम HVAC के नाम से जानते है इसका काम Heating, ventilation और Air conditioning होता है वर्तमान में घर, एटीएम, ऑफिस, गाड़िया आदि में इसका यूज किया जाता है ताकि गर्मी का छुटकारा मिले और ठंडी हवा का आराम पाये।

AC Full Form in Hindi

AC का फुल फॉर्म “Air Conditioner” होता है यह एक विधुत स्वचलित यंत्र है जो प्राकृतिक हवा को अपने अंदर कंज्यूम करके ठंड हवा में परिवर्तन कर देता है ऐसी से निकलने वाली ठंड हवा ताजी होती है। AC के भीतर Refrigerant और Coils लगे रहते है जो Process करके गरम हवा को सोख लेता है और ठंडी हवा को बाहर निकलता है इससे कमरे में गर्मी कम होती है और कमरा ठंडा हो जाता है

AC Full Form – AIR CONDITIONER होता है।

Ac का Full Form अगर अलग क्षेत्रों में अलग अलग होता है जैसे नीचे उदाहरण के तौर पर देख सकते है।

AC Full Form In Electrical

Alternating current

In Government

Advisory Council on Youth

In Medical

Ante Cibum

AC कितने वाट का होता है

ऐसा कोई निश्चित नही होता है कि ऐसी कितना वाट का है क्योंकि अगर अगर कंपनियां ऐसी का बनावट का पॉवर के हिसाब से उसका वाट तय करती है लेकिन अनुमान से 1 Ton इनवर्टर AC लगभग 1200 Watt का होता है और इसे एक घंटा चलाने पर 1.2 Unit बिजली खपत हो सकती है, 2 Ton का AC लगभग 2000 वाट का होता है यह 2 Unit/घंटा बिजली खपत कर सकती है।

AC में टन का मतलब क्या होता है

ऊपर के पैराग्राफ में AC Full Form के बारे में जान गए है अब ऐसी में टन का मतलब समझ लेते है जब भी हम किसी इलेट्रॉनिक समान के वाले दुकान पर जाते है और Ac खरीदने जाते है तो दुकानदार पूछता है कि कितने टन का ऐसी चाहिए 1 Ton, 2 Ton या बहुत लोग ये समझ लेते है कि टन का मतलब ऐसी का वजन है लेकिन ऐसा कुछ नही होता है टन का मतलब कुछ और ही है।

ऐसी में टन का मतलब कमरे को ठंडा करने की क्षमता से होता है यानी ऐसी को एक कमरे को ठंडा करने में कितना वक्त लगता है या कितनी ऊर्जा लगती है ऐसी के टन पर निर्धारित होता है यानी ऐसी गर्मी की मात्रा को कितनी देर में कम कर देगी आइये इसके बारे में बिस्तर से जानते है।

1 Ton AC :- एक टन का ऐसी एक कमरे में उतना ही ठंड करेगा जितनी एक टन का बर्फ रखने से उस कमरे ठंड हो एक टन का ऐसी 10/10 कमरे को ठंडा करने के लिए पर्याप्त है।

2 Ton AC :- दो टन का ऐसी एक कमरे में उतना ही ठंड करेगा जितनी दो टन का बर्फ रखने से उस कमरे ठंड हो एक टन का ऐसी 20/20 कमरे को ठंडा करने के लिए पर्याप्त है।

3 Ton AC :- तीन टन का ऐसी एक कमरे में उतना ही ठंड करेगा जितनी दो टन का बर्फ रखने से उस कमरे ठंड हो एक टन का ऐसी 30/30 हॉल /कमरे को ठंडा करने के लिए पर्याप्त है।

AC कितने तापमान पर चलानी चाहिए

दोस्तो हमेसा हमे ऐसी 25.5 ℃ पर चलना चाहिए चाहे आपका ऐसी कितना भी टन का हो अगर आप ज्यादा ℃ पर ऐसी चलाएंगे तो आपका सेहत भी खराब होगा और बिजली का खपत भी ज्यादा करेगा जिससे बिजली बिल ज्यादा आएगा इसलिए ऐसी हमे Stranded तापमान 25.5 ℃ पर ही रखना चाहिए।

सबसे जरूरी बात की ऐसी हमेसा अपने जरूरत के हिसाब से लेनी चाहिए जैसे- अगर आपका कमरा 10/10 का है आप 3 टन का ऐसी लगा लेते है तो आपका काफी नुकसान होगा जिसमे पैसा भी ज्यादा लगेगा और बिजली की खपत भी ज्यादे होगी इसलिए आपके जरूरत के हिसाब से ही ऐसी लेनी चाहिए।

Inverter AC और Normal AC में क्या अंतर है

जब भी हम पहली बार AC ख़रीदने जाते है तो हमे दो प्रकार के ऐसी देखने को मिलती है Normal AC और Inverter AC इसमे बहुत से कन्फ्यूज़ हो जाते है कि हमे कौन सा ऐसी लेनी चाहिए Inverter AC और Normal AC में क्या अंतर है आइये इन दोनों में क्या अंतर है जान लेते है।

  • Normal AC में हम एक बार किसी निश्चित तापमान पर ऐसी को सेट कर देते है तो निश्चित तापमान हो जाने के बाद भी ऐसी उसी तापमान में रहता है और चलता ही रहता है।
  • Inverter AC में हम एक बार किसी निश्चित तापमान पर ऐसी को सेट कर देते है जैसे ही पूरे कमरे का सेट किया गया।
  • निश्चित तापमान पर आ जाता है यानी जितना ठंड़क सेट किये है उतना आ गया है तो ऐसी ऑटोमैटिक ऑफ हो जाता है और जैसे ही कमरे का तापमान बढ़ने लगता है तो इन्वर्टर ऐसी ऑटोमैटिक ऑन हो जाता है।
  • Normal AC में आपको Compressor ON और OFF करने का बटन होता है।
  • Inverter AC में Compressor ON और OFF करने का बटन नही होता है यह ऑटोमैटिक काम करता है।
  • Normal AC बिजली ज्यादा खपत करता है जिससे बिजली बिल ज्यादा आता है।
  • Inverter AC बिजली कम खपत करता है जिससे बिजली बिल कम आता है।
  • Normal AC बाजार में थोड़ा सस्ता मिल जाता है।
  • Inverter AC बाजार में थोड़ा महंगा मिलता है।

FAQ

Q : AC को हिंदी में क्या कहते है?

Ans : AC को हिंदी में वातानुकूलक कहा जाता हैं।

Q : AC का फुलफॉर्म क्या होता है?

Ans : AC का फुलफॉर्म “AIR CONDITIONER” होता है।

बहुत सारे लोगो को AC Full Form क्या होता है इसके बारे में जानकारी नहीं है इसलिए इस लेख में AC से जुड़ी विशेष जानकारी बताया गया।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह लेख पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडिया पर जरुर Share करे।

Related Posts :-

Leave a Comment